Google launching campaign on 6 feb 2018 on the occasion of internet safety day

सुरक्षित इन्टरनेट दिवस 6 फरवरी 2018 को, गूगल इन्टरनेट सेफटी अभियान चलाएगा

Spread the love
Google launching campaign on 6 feb 2018 on the occasion of safer internet day

Google launching campaign on 6 feb 2018 on the occasion of safer internet day

6 फ़रवरी को हर वर्ष सुरक्षित इन्टरनेट दिवस मनाया जाता है। इस मौके पर गूगल एक अभियान चलाने वाला है। यह अभियान इन्टरनेट सुरक्षा से जुड़ी होगी। इस अभियान के तहत भारत में ऑनलाइन सुरक्षा के बारे में जानकारी दी जाएगी।

भारत में कुछ साइबर प्रवृत्तियों को देखा है। उदाहरण के लिए, मैलवेयर, फ़िशिंग, वित्तीय धोखाधड़ी जैसे दुरुपयोग, भारतीय बाजार में बढ़ रहे हैं। यह लगभग 400 मिलियन उपभोक्ताओं के साथ एक खंडित बाजार भी है, जो जल्द ही 650 मिलियन यूजर्स तक पहुंचने की उम्मीद है। भारत में बड़ी संख्या में उपयोगकर्ता ग्रामीण इलाकों से हैं। ऐसे उपयोगकर्ता अक्सर इंटरनेट उपयोग के साथ जुड़े जोखिमों से अनजान होते हैं, शहरी उपयोगकर्ताओं के मुकाबले। उन्होंने खुलासा किया कि सामाज आधारित दुरुपयोग, जैसे नौकरी के घोटाले, ईमेल से जुड़े घोटाले, लॉटरी घोटाले ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक प्रचलित हैं। गूगल इंडिया के ट्रस्ट और सेफ्टी डायरेक्टर ने यह भी कहा कि, शहरी यूजरबेस गूगल उत्पादों के लिए सुरक्षा उपायों की अधिक जानकारी रखते हैं, जैसे जीमेल के लिए दो-फैक्टर ऑथेंटिकेशन।

गूगल अब दो-कारक प्रमाणन से परे अपनी सुरक्षा अभियान को और भी मजबूत करने की योजना बना रहा है। अब इंटरनेट सुरक्षा अभियान के तहत तीन कदम दृष्टिकोण को अपनाया जाएगा। सबसे पहले, गूगल 6 फरवरी, 2018 से अपने होमपेज पर सुरक्षा जांच सुविधा के लिए प्रचार लिंक चलाएगा। यह सुविधा उपयोगकर्ताओं को एक क्लिक के साथ अपने खाते की सुरक्षा के बारे में बताएगी। उपयोगकर्ता अपने एंड्रॉइड डिवाइस और जीमेल खाते के लिए सुरक्षा सेटिंग्स की समीक्षा करने में सक्षम होंगे। गूगल एंड्रॉएड पर ‘प्ले प्रोटेक्ट’ की सुविधा का भी प्रचार करेगा, जो दुर्भावनापूर्ण ऐप का पता लगाने में मदद कर सकता है। गूगल ने जनवरी 2018 में बताया कि उसने प्ले स्टोर से कुल 700,000 दुर्भावनापूर्ण ऐप्स निकाल दिए हैं।

गूगल ने यह भी बताया कि, इंटरनेट सुरक्षा के बारे में जागरुकता फैलाने के लिए गोवा, केरल, गुजरात और तेलंगाना की राज्य सरकारों के साथ गूगल कैसे काम कर रहा है। तेलंगाना में, इंटरनेट सुरक्षा कार्यक्रम के लिए सरकार के साथ भागीदारी की गयी, जो टेलीविजन पर 6,000 से अधिक सरकारी स्कूलों में तीन भाग की श्रृंखला के रूप में चलाया गया था। गूगल का कहना है कि यह पूरे भारत के स्कूलों में, पाठ्यक्रम स्तर पर इंटरनेट सुरक्षा को एकीकृत करने के लिए काम कर रहा है। केरल में, इंटरनेट सुरक्षा पर 1 लाख से अधिक उच्च विद्यालय की लड़कियों को प्रशिक्षित करने के लिए एक कार्यक्रम शुरू करने के लिए, आईटी मंत्रालय के साथ भागीदारी की गयी। कार्यक्रम जनवरी 2017 में शुरू किया गया था।

गूगल इंडिया का यह अभियान काफी लाभकारी साबित हो सकता है। आज, देश के हर छोटे-बड़े कामों को इन्टरनेट से जोड़ा जा रहा है। ऐसी स्थिति में इन्टरनेट पर सुरक्षा की काफी ज्यादा जरुरत है। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भारत को डिजिटल इंडिया बनाना चाहते हैं। ऐसी स्थिति में पहला काम इन्टरनेट को सिक्योर करने का है। इस दिशा में सरकार द्वारा ज्यादा से ज्यादा नौकरी की उपलब्धियां निकालनी चाहिए, ताकि आने वाली पीढ़ी इस छेत्र को एक ख़ास महत्त्व दे सके। सुरक्षित  इन्टरनेट दिवस पर, गूगल द्वारा चलायी जाने वाली यह कैम्पेन काफी सराहनीय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *